Andhra Bank
Facebook Twitter

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

 
एबी आरोग्यमदान योजना
 
  एबी आरोग्यमदान योजना सामूहिक मेडिक्लेदम बीमा पालिसी की मुख्य बातें

पालिसीधारक बीमादाता के पैनल के थर्ड पार्टि एडमिनिस्‍ट्रेटर (टीपीए) की सेवाएं लेंगे।
 
  1. थर्ड पार्टी एड्मिनिस्ट्रेिटर (टीपीए)  


टीपीए बीमा कंपनी द्वारा पैनेल में रखा गया थर्ड पार्टि एडमिनिस्‍ट्रेटर है।  बीमा कंपनी द्वारा पालिसी जारी किए जाते ही पालिसीधारक को टीपीए फोटो पहचान कार्ड जारी करेगा।  टीपीए का देशभर में अस्‍पतालों के चिह्नित नेटवर्क है, जहॉं इस पहचान कार्ड को दिखाने पर नकदरहित उपचार उपलब्‍ध है। तथापि, पालिसी धारक गैर-नेटवर्क अस्‍पतालों में भी जा सकते हैं, लेकिन उन्‍हें पहले बिल का भुगतान करना होगा और टीपीए से प्रतिपूर्ति मॉंगनी होगी।

 
  2. टीपीए की भूमिका


टोलफ्री नंबर में टीपीए सुविधाएं प्राप्‍त की जा सकती हैं।  अस्‍पताल में चिकित्‍सा योजनाबद्ध होने के मामले में पालिसीधारक द्वारा अस्‍पताल में चिकित्‍सा प्राप्‍त करने के संबंध में टीपीए से आवश्‍यक मार्गदर्शन प्राप्‍त करने के लिए टीपीए को अग्रिम सूचना देनी होगी। आपातकाल में अस्‍पताल से चिकित्‍सा प्राप्‍त करने के संबंध में 24 घंटों के भीतर अस्‍पताल में भर्ती होने के संबंध में टोलफ्री नंबर पर टीपीए को सूचना दी जानी चाहिए।

 
 3. पैनल में टीपीए

मेसर्स युनाईटेड इंडिया इन्‍शुरेन्‍स कंपनी लिमिटेड ने 09.06.2010 से मेसर्स गुड हेल्‍थ प्‍लान लिमि‍टेड (जीएचपीएल) को इस योजना हेतु टीपीए के रूप में पैनल में रखा है। 09.06.2010 से देय सभी पालिसियों के लिए जीएचपीएल पहचान पत्र जारी करेगा और उनके दावों का प्रबंधन करेगा।

मात्र 08.06..2010 तक देय पालिसी के लिए फैमिली हेल्‍थ प्‍लान लिमिटेड कार्ड जारी करेगा।  यह अपने द्वारा जारी पालिसियों / पहचान पत्रों के दावों का निवार्ह करेगा।

क.  पालिसी धारक नेटवर्क अस्‍पताल में भर्ती होने पर
यदि पालि‍सीधारक नेटवर्क अस्‍पताल में भर्ती होता है तो नकदरहित उपचार के लिए उक्‍त अस्‍पताल टीपीए से क्लियरेन्‍स प्राप्‍त करेगा और ऐसी हालत में पालिसी धारक द्वारा अस्‍पताल से छूटते समय, कतिपय अननुमेय व्‍यय के अलावा, कोई भुगतान करने की आवश्‍यकता नहीं है।

ख)  पालिसी धारक गैर-नेटवर्क अस्‍पताल में भर्ती होने पर
यदि पालिसीधारक गैर-नेटवर्क अस्‍पताल में जाता है, उन्‍हें पहले बिल का भुगतान करना होगा और टीपीए से प्रतिपूर्ति मॉंगनी होगी।  अस्‍पताल छोडने के 30 दिन के भीतर टीपीए को दावेदारों द्वारा दावा प्रलेख प्रस्‍तुत किए जाने चाहिए।

 
  3. कवर किए गए अस्पवतालीकरण व्याय का ब्यौसरा


दि इस योजना के अंतर्गत कोई दावा(वे) अनुमेय होते हैं, बीमा कंपनी टीपीए द्वारा अस्‍पताल / नर्सिंग होम या बीमाकृत व्‍यक्ति को नीचे बताए गए विभिन्‍न शीर्षों के अंतर्गत आनेवाले और युक्तिसंगत तथा आवश्‍यकतानुसार बीमाकृत व्‍यक्ति या उनकी ओर से किए गए ऐसे व्‍यय की राशि का भुगतान करेगा, लेकिन सारणी में दिए अनुसार कुल राशि आश्‍वस्‍त राशि सारणी से अधिक न हो।

क) अस्‍पताल/नर्सिंग होम द्वारा उपलब्‍ध कराया गया कमरा, खान-पान और नर्सिंग व्‍यय प्रति दिन आश्‍वस्‍त राशि के 1% या खर्च की गई वा‍स्‍तविक राशि जो भी कम हो।  इसमें नर्सिंग उपचार, आरएमओ प्रभार, आई वी फ्लूयिड/ ब्‍लड ट्रान्‍सफ्यूशन/ इंजेक्‍शन लगाना और इस प्रकार के प्रभार शामिल हैं।

ख) यदि आई सी यूनिट में भर्ती हों, तो कंपनी प्रति दिन आश्‍वस्‍त राशि के 2% या खर्च की गई वा‍स्‍तविक राशि जो भी कम हो का भुगतान करेगा।

ग) सर्जन, एनेस्‍थेटिस्‍ट, मेडिकल प्रैक्टिशनर, सलाहकार, विशेषज्ञ शुल्‍क

एनेस्‍थेटिस्‍ट, खून, ऑक्सिजेन, ऑपरेशन थियेटर प्रभार, शल्‍य चिकित्‍सा उपकरण, दवाएं और ड्रग्‍स, डयाग्‍नॉस्टिक सामग्री और एक्‍स-रे, डयालिसेस, खीमोथेरपी, रेडियोथेरपी, कृत्रिम अंग, शल्‍य चिकित्‍सा के दौरान लगाए गए प्रोस्‍थेटिक उपकरण य‍था पेसमेकर की लागत, संगत लैबोरेटरी डयाग्‍नॉस्टिक परीक्षाएं आदि और इस प्रकार के व्‍यय।

डी) अंग प्रतिरोपण के संबंध में दाता के लिए किए गए सभी अस्‍पतालीकरण व्‍यय (इसमें अंग की लागत, यदि कोई हो, शामिल नहीं है)
 
पीछे आगे
chiclogo