Andhra Bank
Facebook Twitter

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

banner
 
प्राप्य किराया के विरूद्ध् अग्रिम
 
  प्राप्य किराया के विरूद्ध् अग्रिम

स्थावर संपदा/कमर्शियल कॉम्पलेक्स/तकनीकी पार्कें से सम्बन्धित गतिविधियों की स्थिति को ध्यान में रखते हुए, आन्ध्रा बैंक ने कारपोरेट सहित सभी प्रकार के ग्राहकों को वित्त प्रदान करने हेतु एक नई योजना तैयार की है .
  1. योजना में व्य॑क्तिगत, फर्म तथा कारपोरेट सभी प्रकार के ग्राहक सम्मिलित हैं .
  2. योजना के अन्तर्गत प्रति उधारकर्ता 10 करोड़ रू तक का ऋण स्वीकृत किया जा सकता है . उपयुक्त मामलों में उच्च सीमा हेतु प्रावधान है .
  3. पट्टेदार किसी भी श्रेणी का हो सकता है जैसे व्यक्तिगत के अलावा एम एन सी, पी एस यु आदि .
  4. ऋण व्यावसायिक आवश्यकताओं अथवा व्यक्तिगत जरूरत की पूर्ति हेतु लिया जा सकता है .
  5. ऋण लेने हेतु ग्राहक को बैंक के साथ  पट्टेदार सहित एक तीन-पक्षीय समझौता  करना होगा .

परियोजना मूल्यांकन :
परियोजना मूल्यांकन विभाग में बड़ी परियोजनाओं के मूल्यांकन हेतु तकनीकी, वित्तीय  क्षेत्र सहित, विभिनन क्षेत्रों में ज्ञान-प्राप्त तथा अनुभवी व्यावसायिक व्यक्तियों की एक टीम है . आन्ध्रा बैंक का मूल्यांकन कारपोरेट हेतु सहायक होता है तथा साथ ही परियोजनाओं के कार्यान्वयन हेतु ऋण सुविधाओं के अलावा आस्तियों के अभिग्रहण तथा व्यवसाय-योजना आदि के निर्णय को अंतिम रूप देने में भी सहायक होता है .
ऋण समूहन :
बैंक कारपोरेट को उनकी परियोजनाओं व परिचालन में वित्तीय सहायता (मियादी ऋण तथा कार्यकारी पूंजी दोनों) की व्यवस्था द्वारा अपना ऋण समूहन प्रदान करता रहा है . आन्ध्रा बैंक ऋण में प्रमुख शेयर द्वारा व्यवस्था किए गए ऋण हेतु अग्रणी बैंक की भूमिका निभाता है तथा ऋण व्यवस्था में सकारात्मक प्रभाव ड़ालता है .

.

 
chiclogo