Andhra Bank
Facebook Twitter Youtube

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

bannner
 
बैंक
 
  संक्षिप्‍त इतिहास


"आन्ध्रा बैंक" प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी एवं बहुमुखी प्रतिभाशली डॉ. भोगराजु पट्टाभि सीतारामय्या द्वारा स्थापित किया गया. बैंक को 20 नवम्बर 1923 को पंजीकृत किया गया और रु. 1.00 लाख की प्रदत्त पूंजी एवं रु. 10.00 लाख की प्राधिकृत पूंजी के साथ 28 नवम्बर 1923 को व्यापार प्रारंभ किया

 
  संस्‍थापक



डॉ. भोगराजु पट्टाभि सीतारामय्या का जन्म आन्ध्र प्रदेश के गुंडुगालनु गांव में 24 नवंबर 1880 को हुआ. आप सुविख्यात स्वतंत्रता सेनानी तथा सुप्रसिद्ध व्यक्ति थे.

 
  कार्पोरेट पहचान


मिलजुलकर रहना प्रातिपदिक है

अनंतता का सिम्बल यह सूचित करता है कि बैंक ग्राहकों के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है.

शीर्ष का नीलासूचक बैंक के उस दर्शन का प्रतीक है जो सर्वदा विकास एवं नई दिशाओं की ओर बढना चाहता है.

कुंजीछिद्र निरापद तथा सुरक्षा का सूचक है.

श्रृंखला मैत्री को इंगित करता है.
लाल एवं नीला रंग गतिशीलता एवं सुदृढ़ता के मिश्रण को इंगित करता है.

 
  हमारे बैंक का मैस्कट


  अस्वीकरण
 
यह हमारे ध्‍यान में आया है कि कुछ वेबसाइट / फर्म / संगठन/ व्‍यक्ति अनधिकृत रूप से आन्‍ध्रा बैंक का लोगो प्रयोग कर रहे हैं और आन्‍ध्रा बैंक के सेवा प्रदाता होने का दावा कर रहे हैं। इस वेबसाइट पर स्‍पष्‍ट रूप से प्रदर्शित सूची में शामिल के अलावा किसी व्‍यक्ति द्वारा किसी कंपनी / फर्म / संगठन / व्‍यक्ति के साथ किये गये किसी व्‍यवहार के लिये आन्‍ध्रा बैंक उत्‍तरदायी/ जिम्‍मेवार नहीं है अन्‍यथा, ऐसे व्‍यवहार/ आचरण के लिये आप स्‍वयं जिम्‍मेदार हैं।
 
 
 
chiclogo