Andhra Bank
Facebook Twitter

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

banner
 
एबी व्‍यावसायिक ऋण
 
 एबी व्‍यावसायिक ऋण

सेवा क्षेत्र, जहाँ से जीडीपी हेतु प्रमुख योगदान प्राप्‍त होता है, में व्‍यावसायिकों का अहम स्‍थान है। इस संभाव्‍य वर्ग में व्‍यापार सृजन हेतु हम 30.01.2012 से ''एबी व्‍यावसायिक ऋण'' नामक एक नई योजना आरंभ कर रहे हैं।

इस योजना की मुख्‍य बातें निम्‍नानुसार हैं :
 
पात्र उधारकर्ता

वृत्तिक सनदी लेखाकार, आर्किटेक्‍ट, इंजीनियर, मूल्‍यांकक, प्रबंधन/वित्‍तीय परामर्शदाता, कंपनी सचिव, लागत लेखाकार आदि.,


  1. गठन : व्‍यक्ति, फर्म, सीमित देयता फर्म, व्‍यावसायिक सेवाएं प्रदान कर रही कंपनी या संस्‍था।
  2. कम से कम पिछले दो वर्ष से आय कर के अंतर्गत मूल्‍यांकिती हो।
  3. संबंधित व्‍यावसायिक संघ / मंडल / निकाय में पंजीकृत सदस्‍य हो।
 
 ऋण का प्रयोजन

कार्यालय परिसर स्‍थापित / नवीकृत करने, कार्यालय परिसर की फर्निशिंग, औज़ार, उपकरण और पुस्‍तकों की खरीद, व्‍यावसायिकों की यात्रा से संबंधित व्‍यय, दैनंदिन परिचालन करने हेतु कार्यशील पूंजी।
 
 सुविधा का प्रकार

ऋण के प्रयोजन के आधार पर मीयादी ऋण, ओवरड्राफ्ट या दोनों
 
ऋण राशि

योजना के अंतर्गत वित्‍त की अधिकतम राशि `.10 लाख है।

 
 प्रतिभूति

उधारकर्ता की निजी प्रतिभूति और ऋण में से खरीदी गई आस्तियों का दृष्टिबंधन

 
 संपार्श्विक प्रतिभूति
  1. विद्यमान चल आस्तियों और ऋण में से खरीदी गई आस्तियों का दृष्टिबंधन।
  2. सीजीटीएमएसई के अं‍तर्गत अनिवार्यत: कवर किया जाए
  3. आरंभिक 18 माह के लिए पश्‍च दिनांकित चेक
 
 ऋण राशि का मूल्‍यांकन
  1. मीयादी ऋण : खरीद हेतु प्रस्‍तावित आस्ति की लागत का 75%
  2. कार्यशील पूंजी सीमा : लाभ एवं हानि लेखा के अनुसार पिछले वर्ष के राजस्‍व व्‍यय का 75%
  3. कुल एक्‍सपोशर पिछले दो वर्ष के औसत वार्षिक आय के दोगुना से अधिक न हो।
 
ब्‍याज दर

आधार दर + 3.25%=14% वर्तमान में

 
 संसाधन / आरंभिक प्रभार

ऋण राशि का 0.50%

 
 अन्‍य प्रभार

सीजीटीएमएसई प्रीमियम का भुगतान उधारकर्ता द्वारा किया जाए।

 
 चुकौती अवधि

मूल राशि और ब्‍याज हेतु अधिकतम 1 वर्ष चुकौती अवकाश सहित 60 मासिक किश्‍तों से अनधिक। सीओडी के रूप में कार्यशील पूंजी हेतु - 1 वर्ष, तत्‍पश्‍चात् नवीकरण हेतु पात्र।

 
 अतिरिक्‍त सुविधाएं

माह में तीन बार रु.1 लाख प्रत्‍येक के प्रेषण हेतु प्रेषण प्रभारों में 50% रियायत

 
 
 
chiclogo