Andhra Bank
Facebook Twitter

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

 
आम सवाल - ए टी एम
 
  ऑटोमेटेड टेलर मशीन (ए टी एम) क्या है ?

ऑटोमेटेड टेलर मशीन एक कम्पयूट्रीकृत मशीन है जो बैंक के ग्राहकों को अपने खाते से नकद भुगतान तथा बैंक की शाखा में जाए बिना अन्य वित्तीय लेनदेन हेतु सुविधा प्रदान करती है
 
 ए टी एम में किस प्रकार के कार्ड का उपयोग किया जा सकता है ?

विभिनन लेनदेन हेतु ए टी एम में ए टी एम कार्ड/डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड तथा प्रीपेड कार्ड ( जो नकद आहरण की अनुमति दें) का प्रयोग किया जा सकता है ।
 
 ए टी एम में क्या सेवाएं/सुविधाएं उपलब्ध हैं ?


नकद भुगतान के अतिरिक्त, ए टी एम निम्नलिखित सेवाएं/सुविधाएं प्रदान कर सकता है :

  • खाते की सूचना
  • नकद जमा  
  • नियमित बिलों का भुगतान  
  • मोबाइल हेतु रि-लोड वाउचरों की खरीद  
  • मिनी/लघु विवरण
  • ऋण खाता पूछताछ आदि  
सेवाएं हर बैंक में भिन्न हो सकती हैं अथवा सेवाएं प्रदान करने हेतु मशीन की क्षमता पर निर्भर करता है ।
 
  ए टी एम में किस प्रकार लेनदेन किया जाता है ?

ए टी एम में लेनदेन करने हेतु, ग्राहक को ए टी एम में कार्ड डाल कर अपनी व्यक्तिगत पहचान संख्या (पिन नम्बर) डालनी होती है ।  
 
  क्या इन कार्डें को देश में किसी भी ए टी एम में प्रयोग किया जा सकता है ?

हां ।भारत में बैंकों द्वारा जारी कार्ड भारत में किसी भी बैंक के ए टी एम हेतु सक्षम होने चाहिए ।
 
  व्यक्तिगत पहचान संख्या (पिन नम्बर) क्या होता है ?


पिन ए टी एम में प्रयोग हेतु न्यूमरिक पासवर्ड होता है । कार्ड जारी करते समय बैंक ग्राहक को पिन अलग से/डाक द्वारा भेजता है । ग्राहक द्वारा यह पिन पुन: निर्धारित करना होता है । अधिकांश बैंक इस बात पर ज़ोर देते हैं कि ग्राहक प्रथम प्रयोग पर पिन बदल लें ।

कार्ड अथवा कार्ड के कवर पर पिन नम्बर नहीं लिखना चाहिए चूंकि कार्ड के खो जाने/चोरी होने पर उसका दुरूपयोग हो सकता है ।
 
 ए टी एम द्वारा कार्ड अन्दर खींच लिए जाने अथवा पिन नम्बर भूल जाने पर क्या करना चाहिए ?

ग्राहक कार्ड जारी करने वाली बैंक शाखा से सम्पर्क कर उसकी प्राप्ति/नया कार्ड जारी करने हेतु अनुरोध कर सकता है । किसी दूसरे बैंक के ए टी एम द्वारा कार्ड अन्दर खींच लिए जाने पर भी यही प्र॑क्रिया है ।
 
 कार्ड के खोने/चोरी हो जाने पर क्या करना चाहिए ?

कार्ड के खो जाने पर ग्राहक को तुरन्त कार्ड जारी करने वाले बैंक से सम्पर्क करना चाहिए ताकि बैंक कार्ड को ब्लॉक कर सके ।
 
 क्या प्रतिदिन कोई न्यूनतम एवं अधिकतम नकद आहरण सीमा है ?

हां । बैंक ग्राहकों द्वारा नकद आहरण हेतु सीमा निश्चित करते हैं । जारीकर्ता बैंक के ए टी एम पर नकद आहरण सीमा बैंक द्वारा कार्ड जारी करते समय निश्चित की जाती है ।  यह सीमा सम्बन्धित ए टी एम तथा ग्राहक को दी गई यूज़र गाइड में दी गई होती है ।

दूसरे बैंक के ए टी एम से नकद आहरण हेतु, बैंकों ने प्रति लेनदेन 10000/- सीमा निश्चित करने का निर्णय किया है । यह सूचना ए टी एम में प्रदर्शित होती है ।
 
 क्या बैंक दूसरे बैंकों के ए टी एम के प्रयोग हेतु कोई सेवा प्रभार लगाते हैं ?

नहीं । दूसरे बैंकों के ए टी एम के प्रयोग पर कोई प्रभार देय नहीं है । नकद आहरण एवं शेष पूछताछ हेतु ए टी एम के प्रयोग पर, भा रि बैं ने अप्रैल 1, 2009 से "निशुल्क

ए टी एम नीति" के अन्तर्गत निशुल्क कर दिया है ।  बैंक ऐसे निशुल्क लेनदेन की संख्या को सीमित करके अधिकतम 5 लेनदेन प्रति माह कर सकते हैं । इस न्यूनतम लेनदेन संख्या से अधिक होने पर बैंक प्रति लेनदेन अधिकतम 20/- रू प्रभार लगाते हैं ।
 
  यदि नकद आहरण प्र॑क्रिया के दौरान, नकद राशि का संवितरण नहीं होता है किन्तु राशि खाते से नामे हो जाती है तो क्या किया जाना चाहिए ?

ग्राहक कार्ड जारी करने वाले बैंक में शिकायत करवा सकता है । किसी दूसरे बैंक के ए टी एम में लेनदेन के दौरान समस्या के मामले में भी यही प्र॑क्रिया लागू है ।
 
  ऐसे गलत नाम हेतु खाते में राशि पुन: जमा करने हेतु बैंक अधिकतम कितने दिन लेगा ?

भा रि बैं के अनुदेशों के अनुसार बैंक को अधिकतम 12 कार्य दिवस में ऐसे गलत नामे की गई राशि को पुन: जमा करना है ।

 
 12 कार्य दिवस से अधिक विलम्ब हेतु क्या ग्राहक क्षतिपूर्ति हेतु पात्र हैं ?

हां ।  जुलाई 17, 2009 से बैंकों को ग्राहकों को 12 कार्य दिवस से अधिक विलम्ब होने पर 100/- रू प्रति दिन भुगतान करना होगा ।  यह राशि बैंक को बिना दावा किए ग्राहक के खाते में जमा करनी होगी ।

 
 यदि अधिदेश अनुसार क्षतिपूर्ति नामे नहीं की जाती है तो ग्राहक के पास क्या विकल्प है ?
ऐसी सभी शिकायतों हेतु, यदि बैंक उत्तर न दे तो ग्राहक स्थानीय ओमबडसमन में शिकायत दर्ज कर सकता है ।
 
chiclogo