Andhra Bank
Facebook Twitter

टोल फ्री नंबर: 1800 425 1515

faqs
 
आम सवाल
 
 bulate अनिवासी भारतीय  » अनिवासी भारतीयों को सुविधाएं
greypt

bullet wh बैंक खाते तथा जमा
bullet wh प्रत्यावर्तन के आधार पर अन्य निवेश
bullet wh अप्रत्यावर्तन के आधार पर अन्य निवेश
bullet wh अचल सम्पत्ति में निवेश
bullet wh लौटने वाले अनिवासी भारतीयों/भारतीय मूल के व्यक्तियों को सुविधाएं
 
 bulate बैंक खाते तथा जमा
greypt

) अनिवासी (बाहरी) रूपया (एन आर ई) खातों (प्रत्यावर्तन-योग्य मूल / ब्याज)

  • बचत - उन आर ई बचत जमा पर ब्याज-दरें घरेलु बचत जमा पर लागू दरों के समान होंगी । वर्तमान में ब्याज दर 3.5% है .
  • मीयादी जमा - 1 वर्ष से 3 वर्ष, नए प्रत्यावर्तन-योग्य अनिवासी (बाहरी) रूपया (एन आर ई) मीयासदी जमा पर ब्याज की दर तदनुरूपी परिपक्वता के अमरीकी डॉलर हेतु गत माह के अंतिम कार्य दिवस को लिबोर जमा 100 बेसिस पाइंट से अधिक नहीं होनी चाहिए ।  

तीन वर्ष की जमा हेतु उक्त अनुसार ब्याज की दरें लागू होनी चाहिए यदि परिपक्वता अवधि 3 वर्ष से अधिक हो ।

वर्तमान परिपक्वता अवधि के पश्चात नवीकृत एन आर ई जमा पर भी ब्याज-दरों में परिवर्तन लागू होगा ।

ख)एफ सी एन आर () (प्रत्यावर्तन-योग्य मूल/ब्याज)

खाते में निधि की जमा समय समय पर भा रि बैं द्वारा अनुमति दी गई मुद्रा में स्वीकार की जा सकती है ।  

  • वर्तमान में भारत में 6 विशिष्ट विदेशी मुद्रा में (यू एस डॉलर, पाउण्ड स्टरलिंग, यूरो, जापानी येन,  आस्ट्रेलियन डॉलर तथा कैनेडियन डॉलर) ए डी के पास मीयादी जमा रखी जा सकती है ।
  • ब्याज की दर - सम्बन्धित मुद्रा/तदनुरूपी मीयाद, में से 25 बेसिस पाइंट कम करें, हेतु लिबोर/स्वैप दरों की उच्चतम दर के अन्दर निश्चित अथवा अस्थिर ।  
  • जमा की परिपक्वता - 1-5 वर्ष  

) एन आर ओ खाते (चालू आय प्रत्यावर्तन)

  • बचत - सामान्यत: रूपया आय/आय जमा करने हेतु जैसे लाभांश,ब्याज. वर्तमान में ब्याज की दर 3.5 % है ।  
  • मीयादी जमा - बैंक ब्याज की दरों का निर्धारण करने हेतु स्वतन्त्र हैं ।  
)  एन आर ओ शेष से प्रत्यावर्तन

एन आर ओ खातों में शेष से बोनाफाइड उद्देंश्यों हेतु अधिकृत डीलर प्रति वित्त वर्ष (अप्रैल-मार्च) 1 मिलियन यू एस डॉलर तक प्रेषण की अनुमति दे सकते हैं बशर्ते कि लागू करों का भुगतान किया गया हो । प्रति वित्त वर्ष 1 मिलियन यू एस डॉलर की सीमा में  अनिवासी भारतीयों/भारतीय मूल के व्यक्तियों की अचल सम्पत्तियों के बिक्री-प्राप्य सम्मिलित हैं ।
 
 bulate प्रत्यावर्तन के आधार पर अन्य निवेश
greypt

  • सरकारी दिनांकित प्रतिभूतियां/खजाना बिल  
  • घरेलु म्युचुअल फंडों की इकाईया
  • भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (पी एस यू) द्वारा जारी बांड
  • भारत में निगमित कम्पनी के गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर .
  • भारत सरकार द्वारा विनिवेशित होने पर सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों में शेयर बशर्ते कि खरीद बोली मंगाने वाली सूचना में विनिर्दिष्ट नियम एवं शर्तें के अनुसार हो   
  • एफ डी आई योजना के अन्तर्गत (स्वचालित रूट तथा एफ आई पी बी सहित) भारतीय कम्पनियों के शेयर तथा परिवर्तनीय डिबेंचर ।  
  • संविभाग निवेश योजना के अन्तर्गत स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से भारतीय कम्पनियों के शयर तथा परिवर्तनीय डिबेंचर ।
  • शाश्वत ऋण प्रलेख तथा भारत में बैंकों द्वारा जारी ऋण पूंजी प्रलेख ।
 
 bulate गैर-प्रत्यावर्तन के आधार पर अन्य निवेश
greypt

  • सरकारी दिनांकित प्रतिभूतियां (धारक प्रतिभूतियों के अलावा)/खजाना बिल ।  
  • घरेलु म्युचुअल फंडों की इकाईयां ।
  • भारत में धन-बाजार म्युचुअल फंडों की इकाईयां ।
  • भारत में निगमित किसी कम्पनी के गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर ।  
  • भारत में स्वामित्व इकाई अथवा फर्म की पूंजी, जो किसी कृषि अथवा बागान गतिविधि अथवा स्थावर सम्पदा व्यवसाय में कार्यरत न हो ।   
  • भा रि बैं में पंजीकृत एन बी एफ सी सहित कम्पनीज़ एक्ट, 1956 के अन्तर्गत पंजीकृत कम्पनी में जमा अथवा संसद में अथवा राज्य विधान सभा में अधिनियम द्वारा बनाई गई कारपोरेट बॉॅडी अथवा कोई स्वामितव इकाई अथवा रूपया निधि में से कोई फर्म जोकि आवक प्रेषण का प्रतिनिधितव नहीं करती अथवा एन आर ओ खाते में एन आर ई/एफ सी एन आर (बी) खातों से अंतरण नहीं करते ।  किसी भारतीय कम्पनी द्वारा जारी वाणिज्यिक पेपर  ।
  • संविभाग निवेश योजना के अन्तर्गत के अलावा भारतीय कम्पनियों के शेयर तथा परिवर्तनीय डिबेंचर ।  
 
 bulate अचल सम्पत्ति में निवेश
greypt

  • प्रत्यावर्तन-योग्य अथवा गैर-प्रत्यावर्तन निधि से कृषि भूमि/बागान सम्पत्ति के अलावा भारत में अचल सम्पत्ति ले सकते हैं ।  

ऐसे निवेश के सम्बन्ध में, अनिवासी भारतीय प्रत्यावर्तन हेतु पात्र हैं ।  

  • दो आवासीय सम्पत्तियों तक, सम्पत्ति हेतु प्रत्यावर्तित निधि की सीमा तक भारत में ली अचल सम्पत्ति की बिक्री प्राप्तियां । शेष मद सं (आई) (डी) में वर्णित शर्तें की पूर्ति होने पर एन आर ओ खाते के माध्यम से प्रत्यावर्तित किया जाएगा । .
  • चुकौती (क) फ्लैटों/प्लॉट  के अनाबंटन के कारण मकान बनाने वाली एजेंसियों/विक्रेता द्वारा आवेदन/अ॑ग्रिम धन/खरीद (ख) कुल कर, ब्याज सहित आवासीय/वाणिज्यिक सम्पत्ति की खरीद हेतु बुकिंग/डील रद्द करना, बशर्ते कि  मूल भुगतान एन आर ई/एफ सी एन आर (बी) खाते/आवक प्रेषण में से किया गया हो ।
  • ए डी/आवासीय वित्तीय संस्थाओं से अनिवासी भारतीय द्वारा लिए गए आवास ऋण की चुकौती रूपए में भारत में उधारकर्ता के नज़दीकी रिश्तेदारों द्वारा की जा सकती है ।  
 
 bulate लौटने वाले अनिवासी भारतीयों/भारतीय मूल के व्यक्तियों को सुविधाएं
greypt

  • लौटने वाले अनिवासी भारतीय/ भारतीय मूल के व्यक्ति
    • रत से बाहर स्थित कोई अचल सम्पत्ति अथवा विदेशी प्रतिभूति, विदेशी मुद्रा में निवेश अथवा अंतरण, खरीद, रख सकते हैं यदि ऐसी मुद्रा, प्रतिभूति अथवा सम्पत्ति तब रखी, ली अथवा खरीदी गई हो जब भारत से बाहर निवासी थे ।
    • एन आर ई/एफ सी एन आर (बी) खातों में रखे शेष के अंतरण हेतु भारत में किसी अधिकृत डीलर के पास एक आवासीय विदेशी मुद्रा (आर एफ सी) खाता खोल/रख सकते हैं । लौटने के समय भारत से बाहर रखी आस्तियों की प्राप्तियां आर एफ सी खाते में जमा की जा सकती हैं ।  आर एफ सी खातों में निधि  भारत से बाहर किसी भी रूप में निवेश पर किसी प्रतिबन्ध सहित विदेशी मुद्रा शेष के प्रयोग के सम्बन्ध में सभी प्रकार के प्रतिबन्ध से मुक्त हैं ।
 
.......................................................................................................................................... top
chiclogo